मुंबई एयरपोर्ट पर तैनात 11 CISF के जवान कोरोना पॉजिटिव

भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण अधिकांश उन्होंने लोगों में पाया गया है, जो हाल में विदेश से लौटे हों और उनके संपर्क में जो लोग आए हों। सबसे पहले स्क्रीनिंग की शुरुआत भी देश के हवाई अड्डों पर ही हुई थी। अब एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) के जवानों …

मुंबई एयरपोर्ट पर तैनात 11 CISF के जवान कोरोना पॉजिटिव
भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण अधिकांश उन्होंने लोगों में पाया गया है, जो हाल में विदेश से लौटे हों और उनके संपर्क में जो लोग आए हों। सबसे पहले स्क्रीनिंग की शुरुआत भी देश के हवाई अड्डों पर ही हुई थी। अब एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) के जवानों के COVID-19 पॉजिटिव होने की बात सामने निकलकर आ रही है। मुंबई में छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर तैनात सीआईएसएफ के 11 जवान कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। बीत कुछ दिनों में कुल 142 जवानों को क्वारंटाइन किया जा चुका है। 142 में से चार जवानों का कल याना गुरुवार को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। वहीं, आज सात जवानों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। महाराष्ट्र के पालघर में गुरुवार रात को कोरोना वायरस संक्रमित एक और मरीज की मौत हो जाने के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर दो हो गई। मुंबई महानगर क्षेत्र में आने वाले इस जिले में अब तक 11 लोग संक्रमित पाए गए हैं जबकि 109 लोगों के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। संक्रमितों के संपर्क में आने वाले 111 लोगों को पृथक किया गया है। साथ ही करीब 406 लोगों ने 14 दिनों की अपनी निगरानी अवधि को पूरा कर लिया है। 11 CISF jawans posted at Mumbai airport tested #COVID19 positive. Total 142 were under quarantine since last few days. Out of which 4 were tested positive yesterday and others were tested positive today: CISF pic.twitter.com/EByO2I5Xae — ANI (@ANI) April 3, 2020 देश में कोरोना के संक्रमण के अब तक 2301 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें पिछले 24 घंटों में सामने आये 336 संक्रमित मरीज भी शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवान ने बताया कि देश में कोरोना से संक्रमित 56 मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है। इनमें से 12 की मौत पिछले 24 घंटों में हुयी। उन्होंने बताया कि 156 मरीजों को इलाज के बाद स्वस्थ होने पर अब तक अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है।