वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने अपने खिलाफ़ FIR को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती!

सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत भूषण ने गुजरात में अपने खिलाफ दर्ज एफआईआर को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है।   सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को प्रशांत भूषण की याचिका पर सुनवाई करेगा।   बता दें, रिटायर्ड सेना के एक जवान जयदेव जोशी की शिकायत पर, गुजरात के भक्तिनगर पुलिस स्टेशन में वकील प्रशांत भूषण के …

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने अपने खिलाफ़ FIR को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती!
सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत भूषण ने गुजरात में अपने खिलाफ दर्ज एफआईआर को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है।   सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को प्रशांत भूषण की याचिका पर सुनवाई करेगा।   बता दें, रिटायर्ड सेना के एक जवान जयदेव जोशी की शिकायत पर, गुजरात के भक्तिनगर पुलिस स्टेशन में वकील प्रशांत भूषण के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को आहत करने और सरकारी आदेशों पर टिप्पणी करने के लिए एफआईआर दर्ज कराई है।   प्रशांत भूषण ने पिछले दिनों ट्वीट कर कहा था कि जब जबरन तालाबंदी के कारण करोड़ों का नुकसान हुआ, तो सरकार दूरदर्शन पर रामायण और महाभारत धारावाहिकों की अफीम खिला रही है। बता दें, कोरोना वायरस संकट और लॉकडाउन की वजह से अर्थव्यवस्था की रफ़्तार गिरती जा रही है. मार्च में आठ सबसे अहम कोर उद्योगों का इंडेक्स 6.5 % गिर गया।   सीमेंट प्रोडक्शन 24 फीसदी से ज्यादा गिर गया है। अब मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को संकट से उबारने के लिए अर्थव्यवस्था में नया निवेश बढ़ाने के लिए नई रणनीति तैयार करना शुरू कर दिया है।   मोदी सरकार का जोर अब अर्थव्यवस्था पर है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक ही दिन में दो महत्वपूर्ण बैठकें बुलाई। यह बैठकें विदेशी निवेश बढ़ाने तथा कोयला व खनन क्षेत्र को लेकर बुलाई गईं।   इनमें जो बात उभरी उसमें विदेशी निवेश बढ़ाने के लिए फ़ास्ट ट्रैक करने तथा घरेलू क्षेत्र को बढ़ावा देने को जरूरी माना गया। कोयला तथा खनन क्षेत्र में कोविड 19 की महामारी के मद्देनजर अधिक सुधार पर दिया जोर गया।   ऑटो सेक्टर की समस्याओं को सुनने के लिए भी बैठक हुई। भारी उद्योग मंत्री प्रकाश जावडेकर ने ऑटो सेक्टर के दिग्गजों से मंत्रणा की।   साभार- एनडीटीवी इंडिया